♦ आपली इयत्ता निवडा ♦

१ ली २ री ३ री ४ थी ५ वी ६ वी ७ वी ८ वी ९ वी १० वी

Pm Modi Says Coronavirus Changed Professional Life; Home Is Now Office And Internet Is Meeting Room – कोरोना ने पेशेवर जिंदगी बदली, व्यवस्था बनाए रखने में छोटे व्यापारियों का महत्वपूर्ण योगदान: पीएम मोदी




प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
– फोटो : ANI

ख़बर सुनें

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को कहा कि कोरोना वायरस के प्रसार ने पेशेवर जीवन के स्वरूप में महत्वपूर्ण बदलाव लाने का काम किया है और इन दिनों घर, नया ऑफिस और इंटरनेट बैठक कक्ष बन गया है। साथ ही उन्होंने लॉकडाउन के बीच सामाजिक व्यवस्था बनाए रखने में छोटे व्यापारियों के योगदान की सराहना की।

प्रधानमंत्री मोदी ने कॉरपोरेट सोशल नेटवर्किंग साइट ‘लिंक्डइन’ पर कहा कि मैं भी इन दिनों ऐसे बदलाव को अपना रहा हूं, चाहे मंत्रिमंडल सहयोगियों, अधिकारियों और दुनिया के नेताओं के साथ बैठक हो। उन्होंने कहा कि वक्त की जरूरत है कि हम ऐसे कारोबार और जीवनशैली के मॉडल के बारे में सोचे, जिसे आसानी से अपनाया जा सकता है।

मोदी ने कहा कि ऐसा करने का मतलब है कि संकट के समय में हमारे दफ्तर, कारोबार और वाणिज्य तेजी से आगे बढ़ेंगे और यह सुनिश्चित होगा कि जीवन का नुकसान नहीं हो। उन्होंने कहा कि आज दुनिया नए कारोबारी मॉडल तलाश रही है तथा युवा राष्ट्र अपनी नवोन्मेषी उत्साह के लिए जाना जाता है और यह नई कार्य संस्कृति प्रदान करने का मार्ग प्रशस्त करता है।

उन्होंने कहा कि भारत भौतिक और आभाषी तत्वों का सही मिश्रण है और यह कोविड-19 के बाद की दुनिया में जटिल आधुनिक एवं बहुराष्ट्रीय आपूर्ति श्रृंखला के केंद्र के रूप में उभर सकता है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमें आगे बढ़कर इस अवसर का लाभ उठाना चाहिए। उन्होंने कहा कि कार्यस्थल ‘डिजिटल प्रथम’ के रूप में उभर रहा है और प्रौद्योगिकी का प्रभाव अक्सर लोगों के जीवन पर पड़ता है।

उन्होंने कहा कि प्रौद्योगिकी नौकरशाही के अनुक्रमों को ध्वस्त करता है, बिचौलियों को समाप्त करता है और इस तरह से कल्याण योजनाओं को गति प्रदान करता है। मोदी ने कहा कि हर संकट एक अवसर प्रदान करता है और कोविड-19 इससे कोई अलग नहीं है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हम इसका मूल्यांकन करें कि हमारे लिए नए अवसर/वृद्धि के क्षेत्र कौन से हैं, जो अब उभर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमें यह सोचने की जरूरत है कि हमारे लोग किस प्रकार से अपने कौशल और क्षमताओं का उपयोग कर सकते हैं ।

वहीं, प्रधानमंत्री मोदी ने लॉकडाउन के बीच छोटे व्यापारियों और दुकानदारों के योगदान की सराहना की। पीएम ने कहा कि इस संकट की घड़ी में देशवासी लॉकडाउन का पालन कर पा रहे हैं, इसमें समाज के अनेक वर्गों की सकारात्मक भूमिका है। उन्होंने कहा कि हम कल्पना करें कि हमारे ये छोटे-छोटे व्यापारी और दुकानदार खुद के जीवन का रिस्क न लेते और रोजमर्रा की जरूरत का सामान न पहुंचाते तो क्या होता?

पीएम मोदी ने कहा कि छोटे-छोटे दुकानदारों ने पूरी सामाजिक व्यवस्था को सुचारू बनाए रखने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। उन्होंने कहा कि समाज और देश इनके इस योगदान को हमेशा याद रखेगा। मैं जानता हूं कि खुद सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना और दूसरों से इसका पालन करवाना चुनौतीपूर्ण है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भविष्य में भी दुकानें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए चलें, हमें यह सुनिश्चित करना है। संकट की घड़ी में इस योगदान के लिए सभी दुकानदार और व्यापारी बधाई के पात्र हैं।

 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को कहा कि कोरोना वायरस के प्रसार ने पेशेवर जीवन के स्वरूप में महत्वपूर्ण बदलाव लाने का काम किया है और इन दिनों घर, नया ऑफिस और इंटरनेट बैठक कक्ष बन गया है। साथ ही उन्होंने लॉकडाउन के बीच सामाजिक व्यवस्था बनाए रखने में छोटे व्यापारियों के योगदान की सराहना की।

प्रधानमंत्री मोदी ने कॉरपोरेट सोशल नेटवर्किंग साइट ‘लिंक्डइन’ पर कहा कि मैं भी इन दिनों ऐसे बदलाव को अपना रहा हूं, चाहे मंत्रिमंडल सहयोगियों, अधिकारियों और दुनिया के नेताओं के साथ बैठक हो। उन्होंने कहा कि वक्त की जरूरत है कि हम ऐसे कारोबार और जीवनशैली के मॉडल के बारे में सोचे, जिसे आसानी से अपनाया जा सकता है।

मोदी ने कहा कि ऐसा करने का मतलब है कि संकट के समय में हमारे दफ्तर, कारोबार और वाणिज्य तेजी से आगे बढ़ेंगे और यह सुनिश्चित होगा कि जीवन का नुकसान नहीं हो। उन्होंने कहा कि आज दुनिया नए कारोबारी मॉडल तलाश रही है तथा युवा राष्ट्र अपनी नवोन्मेषी उत्साह के लिए जाना जाता है और यह नई कार्य संस्कृति प्रदान करने का मार्ग प्रशस्त करता है।

उन्होंने कहा कि भारत भौतिक और आभाषी तत्वों का सही मिश्रण है और यह कोविड-19 के बाद की दुनिया में जटिल आधुनिक एवं बहुराष्ट्रीय आपूर्ति श्रृंखला के केंद्र के रूप में उभर सकता है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमें आगे बढ़कर इस अवसर का लाभ उठाना चाहिए। उन्होंने कहा कि कार्यस्थल ‘डिजिटल प्रथम’ के रूप में उभर रहा है और प्रौद्योगिकी का प्रभाव अक्सर लोगों के जीवन पर पड़ता है।

उन्होंने कहा कि प्रौद्योगिकी नौकरशाही के अनुक्रमों को ध्वस्त करता है, बिचौलियों को समाप्त करता है और इस तरह से कल्याण योजनाओं को गति प्रदान करता है। मोदी ने कहा कि हर संकट एक अवसर प्रदान करता है और कोविड-19 इससे कोई अलग नहीं है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हम इसका मूल्यांकन करें कि हमारे लिए नए अवसर/वृद्धि के क्षेत्र कौन से हैं, जो अब उभर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमें यह सोचने की जरूरत है कि हमारे लोग किस प्रकार से अपने कौशल और क्षमताओं का उपयोग कर सकते हैं ।


आगे पढ़ें

लॉकडाउन में सामाजिक व्यवस्था बनाए रखने में छोटे व्यापारियों ने महत्वपूर्ण योगदान दिया






Source link