♦ आपली इयत्ता निवडा ♦

१ ली २ री ३ री ४ थी ५ वी ६ वी ७ वी ८ वी ९ वी १० वी

Union Health Minister Harsh Vardhan Says Situation Of Coronavirus In Maharashtra Is Critical – स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, महाराष्ट्र में कोरोना की स्थिति चिंताजनक, मुख्यमंत्री से करेंगे बात




न्यूज डेस्क, अमर उजाला, मुंबई
Updated Wed, 06 May 2020 09:59 PM IST

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन (फाइल फोटो)
– फोटो : पीटीआई

ख़बर सुनें

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा है कि देश में कोविड-19 से सबसे ज्यादा प्रभावित महाराष्ट्र में कोरोना महामारी की स्थिति बेहद चिंताजनक है। राज्य के 36 में से 34 जिलों में संक्रमण से प्रभावित हैं। राज्य में कोरोना के संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए आगे की रणनीति पर मैं मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से बात करूंगा। 

उन्होंने कहा कि मुंबई, पुणे, ठाणे, नागपुर, नासिक, औरंगाबाद, शोलापुर समेत सभी जिलों में हालात बिगड़ रहे हैं, जो हमारे लिए बेहद चिंता की बात है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, केंद्र सरकार का लक्ष्य यह सुनिश्चित करना है कि महाराष्ट्र के जिलों से कोई नया मामला नहीं आए। इसके लिए आने वाले दिनों में राज्य सरकार को हरसंभव मदद की जाएगी। 

बता दें कि मौजूदा समय में महाराष्ट्र में 1026 कन्टेंमेंट जोन हैं। केंद्र और डॉक्टरों की टीम वहां मौजूद है और जरूरत के हिसाब से मदद करने को तैयार है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, महाराष्ट्र में बुधवार तक 15,525 मामले मिल चुके हैं। इनमें से 617 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 2819 लोग ठीक हो चुके हैं या इलाज के बाद डिस्चार्ज किए जा चुके हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा है कि देश में कोविड-19 से सबसे ज्यादा प्रभावित महाराष्ट्र में कोरोना महामारी की स्थिति बेहद चिंताजनक है। राज्य के 36 में से 34 जिलों में संक्रमण से प्रभावित हैं। राज्य में कोरोना के संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए आगे की रणनीति पर मैं मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से बात करूंगा। 

उन्होंने कहा कि मुंबई, पुणे, ठाणे, नागपुर, नासिक, औरंगाबाद, शोलापुर समेत सभी जिलों में हालात बिगड़ रहे हैं, जो हमारे लिए बेहद चिंता की बात है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, केंद्र सरकार का लक्ष्य यह सुनिश्चित करना है कि महाराष्ट्र के जिलों से कोई नया मामला नहीं आए। इसके लिए आने वाले दिनों में राज्य सरकार को हरसंभव मदद की जाएगी। 

बता दें कि मौजूदा समय में महाराष्ट्र में 1026 कन्टेंमेंट जोन हैं। केंद्र और डॉक्टरों की टीम वहां मौजूद है और जरूरत के हिसाब से मदद करने को तैयार है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, महाराष्ट्र में बुधवार तक 15,525 मामले मिल चुके हैं। इनमें से 617 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 2819 लोग ठीक हो चुके हैं या इलाज के बाद डिस्चार्ज किए जा चुके हैं।




Source link