♦ आपली इयत्ता निवडा ♦

१ ली २ री ३ री ४ थी ५ वी ६ वी ७ वी ८ वी ९ वी १० वी

Top Uk Scientist Neil Ferguson Resigned After He Broke Rule Of Social Distancing – ब्रिटेन : लॉकडाउन की सलाह देने वाले प्रमुख वैज्ञानिक ने तोड़ा सोशल डिस्टेंसिंग का नियम, दिया इस्तीफा




नील फर्ग्यूसन
– फोटो : सोशल मीडिया

ख़बर सुनें

ब्रिटेन में कोरोना वायरस पर नियंत्रण पाने के लिए लॉकडाउन लगाने की सलाह देने वाले प्रमुख वैज्ञानिक नील फर्ग्यूसन ने सोशल डिस्टेंसिंग का नियम तोड़ने पर अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। फर्ग्यूसन कोरोना वायरस मामले में सरकार के प्रमुख सलाहकार थे। इन्हीं की सलाह पर प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने ब्रिटेन में 23 मार्च से लॉकडाउन का एलान किया था। 

जानकारी के मुताबिक सेंटर फॉर ग्लोबल इंफेक्शंस डिसीज एलानिसिस के निदेशक नील फर्ग्यूसन ने लॉकडाउन के दौरान एक महिला को दो बार अपने घर में बुलाया। हालांकि, उन्होंने अपनी गलती मानते हुए अफसोस जताया। उन्होंने कहा कि सरकार सोशल डिस्टेंसिंग की अपील कर रही है और मैंने इसका उल्लंघर किया।

‘प्रोफेसर लॉकडाउन’ के नाम से जाने जाने वाले नील ने कहा कि वह साइंटिफिक एडवाइजरी ग्रुप फॉर इमरजेंसी के पद से इस्तीफा दे रहे हैं। बीबीसी के अनुसार इसी संस्था ने जनवरी में दुनिया को कोरोना वायरस के खतरे के बारे में चेतावनी दी थी। उन्होंने कहा कि सरकार का यह आदेश सभी नागरिकों की सुरक्षा के लिए है। 

बता दें कि ब्रिटेन में अभी तक कोरोना वायरस से 29 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है और इस मामले में इसने इटली को भी पीछे छोड़ दिया है जहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 28 हजार से कुछ ज्यादा है। कोरोना से मौत के मामले में ब्रिटेन केवल अमेरिका से पीछे हैं जहां इस जानलेवा महामारी की वजह से 72 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी। 

ब्रिटेन में कोरोना वायरस पर नियंत्रण पाने के लिए लॉकडाउन लगाने की सलाह देने वाले प्रमुख वैज्ञानिक नील फर्ग्यूसन ने सोशल डिस्टेंसिंग का नियम तोड़ने पर अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। फर्ग्यूसन कोरोना वायरस मामले में सरकार के प्रमुख सलाहकार थे। इन्हीं की सलाह पर प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने ब्रिटेन में 23 मार्च से लॉकडाउन का एलान किया था। 

जानकारी के मुताबिक सेंटर फॉर ग्लोबल इंफेक्शंस डिसीज एलानिसिस के निदेशक नील फर्ग्यूसन ने लॉकडाउन के दौरान एक महिला को दो बार अपने घर में बुलाया। हालांकि, उन्होंने अपनी गलती मानते हुए अफसोस जताया। उन्होंने कहा कि सरकार सोशल डिस्टेंसिंग की अपील कर रही है और मैंने इसका उल्लंघर किया।

‘प्रोफेसर लॉकडाउन’ के नाम से जाने जाने वाले नील ने कहा कि वह साइंटिफिक एडवाइजरी ग्रुप फॉर इमरजेंसी के पद से इस्तीफा दे रहे हैं। बीबीसी के अनुसार इसी संस्था ने जनवरी में दुनिया को कोरोना वायरस के खतरे के बारे में चेतावनी दी थी। उन्होंने कहा कि सरकार का यह आदेश सभी नागरिकों की सुरक्षा के लिए है। 

बता दें कि ब्रिटेन में अभी तक कोरोना वायरस से 29 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है और इस मामले में इसने इटली को भी पीछे छोड़ दिया है जहां कोरोना से मरने वालों की संख्या 28 हजार से कुछ ज्यादा है। कोरोना से मौत के मामले में ब्रिटेन केवल अमेरिका से पीछे हैं जहां इस जानलेवा महामारी की वजह से 72 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी। 




Source link