♦ आपली इयत्ता निवडा ♦

१ ली २ री ३ री ४ थी ५ वी ६ वी ७ वी ८ वी ९ वी १० वी

Lockdown, Curfew, Coronavirus In Punjab: Ludhiana Acp North Death, Positive Cases – Coronavirus In Punjab: प्रदेश में महामारी से 16वीं मौत, लुधियाना के एसीपी ने तोड़ा दम




महामारी का शिकार हुए एसीपी कोहली
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

कोरोना संक्रमण से पंजाब में 16वीं मौत हो गई है। महामारी से पीड़ित लुधियाना के एसीपी नॉर्थ ने शनिवार को दम तोड़ दिया। मृतक एसीपी डीएमसी लुधियाना में भर्ती थे और वेंटिलेटर पर थे। उनकी प्लाज्मा थेरेपी करने की तैयारी चल रही थी, लेकिन उससे पहले ही इन्होंने दम तोड़ दिया। बता दें कि एसीपी को मंडी में ड्यूटी के दौरान संक्रमण हुआ था। 13 अप्रैल को हालत खराब होने पर इन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

पत्नी, थाना प्रभारी, कांस्टेबल और जिला मंडी अधिकारी भी पॉजिटिव
शुक्रवार को कोरोना के चार संक्रमित मामले सामने आए। चारों संक्रमित एसीपी नॉर्थ के संपर्क में हैं। इसमें एसीपी की पत्नी, थाना जोधेवाल प्रभारी, एक कांस्टेबल और जिला मंडी अधिकारी शामिल हैं। नए केस सामने आने के बाद जिले में कोरोना पीड़ितों की संख्या 16 हो गई है। जिला मंडी अधिकारी कुछ दिन पहले जिले में सब्जी मंडी में भीड़ को लेकर हुए विवाद के दौरान संक्रमित एसीपी के संपर्क में आई थी। 

कानूनगो की भी हो चुकी है मौत
एसीपी से पहले 17 अप्रैल को डीएमसी लुधियाना में ही भर्ती हलका पायल कानूनगो की मौत हो गई थी। 58 वर्षीय कानूनगो को 14 अप्रैल को सेहत बिगड़ने के बाद डीएमसी में भर्ती कराया गया था। उनके सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे। 16 अप्रैल की रात को उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई थी और शुक्रवार दोपहर दिल का दौरा पड़ने से उनकी मौत हो गई। लेकिन उनका कोई यात्रा संबंधी इतिहास नहीं है।
 
18 मार्च को नवांशहर जिले के गांव पठलावा के बुजुर्ग पाठी की मौत हुई, जो जर्मनी से आया था।
29 मार्च को नवांशहर के पाठी संपर्क में आने से होशियारपुर के एक व्यक्ति की मौत हुई। वह अमृतसर में भर्ती था।
30 मार्च को लुधियाना की 42 साल की महिला की पटियाला के राजिंदरा अस्पताल में मौत हुई थी।
31 मार्च को चंडीगढ़ पीजीआई में भर्ती मोहाली के 65 साल के व्यक्ति ने दम तोड़ा था
3 अप्रैल को अमृतसर के गुरु नानक देव अस्पताल में भर्ती श्री हरिमंदिर साहिब के पूर्व रागी भाई निर्मल सिंह का निधन हुआ।
5 अप्रैल को लुधियाना की 68 वर्षीय महिला की मौत हुई। वह फोर्टिस अस्पताल में भर्ती थी।
5 अप्रैल को पठानकोट की महिला का अमृतसर के गुरुनानक देव अस्पताल में देहांत हुआ।
6 अप्रैल को अमृतसर नगर निगम के पूर्व एडिशनल कमिश्नर की मौत हुई।
7 अप्रैल को लुधियाना में बरनाला निवासी 52 वर्षीय महिला की मौत हुई थी।
8 अप्रैल को रोपड़ निवासी मरीज की पीजीआई चंडीगढ़ में मौत हुई।
8 अप्रैल को मोहाली जिले में खरड़ निवासी बुजुर्ग महिला की मौत हुई।
9 अप्रैल को जालंधर निवासी 60 वर्षीय संक्रमित मरीज की मौत हुई।
14 अप्रैल को जालंधर निवासी की मौत
16 अप्रैल को गुरदासपुर निवासी 60 वर्षीय मरीज की अमृतसर अस्पताल में मौत हुई।
17 अप्रैल डीएमसी लुधियाना में भर्ती कानूनगो की मौत हुई।
18 अप्रैल डीएमसी लुधियाना में भर्ती एसीपी की मौत हुई।

कोरोना संक्रमण से पंजाब में 16वीं मौत हो गई है। महामारी से पीड़ित लुधियाना के एसीपी नॉर्थ ने शनिवार को दम तोड़ दिया। मृतक एसीपी डीएमसी लुधियाना में भर्ती थे और वेंटिलेटर पर थे। उनकी प्लाज्मा थेरेपी करने की तैयारी चल रही थी, लेकिन उससे पहले ही इन्होंने दम तोड़ दिया। बता दें कि एसीपी को मंडी में ड्यूटी के दौरान संक्रमण हुआ था। 13 अप्रैल को हालत खराब होने पर इन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

पत्नी, थाना प्रभारी, कांस्टेबल और जिला मंडी अधिकारी भी पॉजिटिव
शुक्रवार को कोरोना के चार संक्रमित मामले सामने आए। चारों संक्रमित एसीपी नॉर्थ के संपर्क में हैं। इसमें एसीपी की पत्नी, थाना जोधेवाल प्रभारी, एक कांस्टेबल और जिला मंडी अधिकारी शामिल हैं। नए केस सामने आने के बाद जिले में कोरोना पीड़ितों की संख्या 16 हो गई है। जिला मंडी अधिकारी कुछ दिन पहले जिले में सब्जी मंडी में भीड़ को लेकर हुए विवाद के दौरान संक्रमित एसीपी के संपर्क में आई थी। 

कानूनगो की भी हो चुकी है मौत
एसीपी से पहले 17 अप्रैल को डीएमसी लुधियाना में ही भर्ती हलका पायल कानूनगो की मौत हो गई थी। 58 वर्षीय कानूनगो को 14 अप्रैल को सेहत बिगड़ने के बाद डीएमसी में भर्ती कराया गया था। उनके सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे। 16 अप्रैल की रात को उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई थी और शुक्रवार दोपहर दिल का दौरा पड़ने से उनकी मौत हो गई। लेकिन उनका कोई यात्रा संबंधी इतिहास नहीं है।
 


आगे पढ़ें

पंजाब में कहां और कब हुई कोरोना से मौत






Source link