♦ आपली इयत्ता निवडा ♦

१ ली २ री ३ री ४ थी ५ वी ६ वी ७ वी ८ वी ९ वी १० वी

Delhi 63 Percent Of Coronavirus Patients Related To Tablighi Jamaat Case: Health Ministry – देश में कोरोना के 29 फीसदी मामले तब्लीगी जमात से जुड़े हुए: स्वास्थ्य मंत्रालय




न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Sat, 18 Apr 2020 05:05 PM IST

ख़बर सुनें

देश में कोरोना वायरस के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। सरकार ने इस वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लॉकडाउन को तीन मई तक बढ़ा दिया है। वहीं, स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को बताया है कि देश में कोरोना के 29 फीसदी मामले तब्लीगी जमात से जुड़े हुए हैं। वहीं, दिल्ली में कोरोना के 63 फीसदी मामले तब्लीगी जमात से जुड़े हुए हैं। 

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि दिल्ली, तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में जमात से जुड़े ज्यादातर मामले सामने आए हैं। देश के 23 राज्यों में मरकज से जुड़े लोग कोरोना संक्रमित हैं। 

गौरतलब है कि दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में तब्लीगी जमात का मार्च के मध्य में एक बड़ा धार्मिक आयोजन हुआ था। ये इलाका बाद में कोरोना वायरस का सबसे बड़ा हॉटस्पॉट बना। निजामुद्दीन मरकज में आयोजित कार्यक्रम में कम से कम 9000 जमाती शामिल हुए थे, जो बाद में देश के विभिन्न हिस्सों में प्रचार के लिए निकल गए और महामारी फैलती चली गई। इनमें सैकड़ों की संख्या में विदेशी भी शामिल थे।  

मरकज में पुलिस कार्रवाई के दौरान ही करीब 2300 जमातियों को निकालकर क्वारंटीन किया गया था। पूरे देश में मरकज में शामिल रहे जमातियों की पहचान करने का अभियान चलाया गया, जिसके तहत विभिन्न राज्य सरकारों की मदद से हजारों जमातियों और उनके संपर्क में आने वाले लोगों को क्वारंटीन किया जा चुका है।

4291 मामले तब्लीगी जमात से जुड़े हुए
संयुक्त सचिव ने बताया कि देश में कोरोना मरीजों की संख्या 14,378 हो गई हैं, जिनमें से 4291 मामले तब्लीगी जमात से जुड़े हुए हैं। उन्होंने कहा कि यह देश के कुल मामलों का 29.8 फीसदी है। 

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया है कि पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना के 991 नए मामले सामने आए हैं और 43 लोगों की मौत हुई है। उन्होंने बताया कि अब तक कुल 1992 कोरोना संक्रमित मरीज ठीक हो चुके हैं। 

देश में कोरोना वायरस के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। सरकार ने इस वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लॉकडाउन को तीन मई तक बढ़ा दिया है। वहीं, स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को बताया है कि देश में कोरोना के 29 फीसदी मामले तब्लीगी जमात से जुड़े हुए हैं। वहीं, दिल्ली में कोरोना के 63 फीसदी मामले तब्लीगी जमात से जुड़े हुए हैं। 

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि दिल्ली, तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में जमात से जुड़े ज्यादातर मामले सामने आए हैं। देश के 23 राज्यों में मरकज से जुड़े लोग कोरोना संक्रमित हैं। 

गौरतलब है कि दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में तब्लीगी जमात का मार्च के मध्य में एक बड़ा धार्मिक आयोजन हुआ था। ये इलाका बाद में कोरोना वायरस का सबसे बड़ा हॉटस्पॉट बना। निजामुद्दीन मरकज में आयोजित कार्यक्रम में कम से कम 9000 जमाती शामिल हुए थे, जो बाद में देश के विभिन्न हिस्सों में प्रचार के लिए निकल गए और महामारी फैलती चली गई। इनमें सैकड़ों की संख्या में विदेशी भी शामिल थे।  

मरकज में पुलिस कार्रवाई के दौरान ही करीब 2300 जमातियों को निकालकर क्वारंटीन किया गया था। पूरे देश में मरकज में शामिल रहे जमातियों की पहचान करने का अभियान चलाया गया, जिसके तहत विभिन्न राज्य सरकारों की मदद से हजारों जमातियों और उनके संपर्क में आने वाले लोगों को क्वारंटीन किया जा चुका है।

4291 मामले तब्लीगी जमात से जुड़े हुए
संयुक्त सचिव ने बताया कि देश में कोरोना मरीजों की संख्या 14,378 हो गई हैं, जिनमें से 4291 मामले तब्लीगी जमात से जुड़े हुए हैं। उन्होंने कहा कि यह देश के कुल मामलों का 29.8 फीसदी है। 

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया है कि पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना के 991 नए मामले सामने आए हैं और 43 लोगों की मौत हुई है। उन्होंने बताया कि अब तक कुल 1992 कोरोना संक्रमित मरीज ठीक हो चुके हैं। 




Source link