♦ आपली इयत्ता निवडा ♦

१ ली २ री ३ री ४ थी ५ वी ६ वी ७ वी ८ वी ९ वी १० वी

Bois Locker Room: Instagram Chat Room Latest Updates One Arrested By Delhi Police Cyber Cell Sexual Assault On Group Chat – Bois Locker Room: छात्राओं को लेकर अभद्र चैट मामले में एक छात्र गिरफ्तार, इंस्टाग्राम ने दी सफाई




न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Tue, 05 May 2020 07:42 PM IST

ख़बर सुनें

बॉयज लॉकर रूम’ चैट समूह मामले के संबंध में एक स्कूली छात्र को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इसके साथ ही चैट ग्रुप के सभी सदस्यों की पहचान कर ली गई है। पुलिस ने कहा है कि इन सबकी जांच की जाएगी। वहीं, इस मामले पर इंस्टाग्राम की सफाई भी आ गई है। 

दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने दिल्ली के स्कूली लड़कों को इंस्टाग्राम चैट रूम पर बलात्कार को बढ़ावा देने पर कार्रवाई करते हुए यह गिरफ्तारी की है। पुलिस ने पकड़े गए छात्र का मोबाइल फोन बरामद कर लिया है और उसकी जांच भी की जा रही है।

वही, इंस्टाग्राम ने मंगलवार को कहा कि विवाद के बाद उसने अपने प्लेटफॉर्म से इस चैट को हटा दिया है। एक बयान में इंस्टाग्राम ने कहा कि उनसे इस मुद्दे को बेहद गंभीरता से लिया है और उसका मानना है कि यूजर्स को सुरक्षित और सम्मानजनक तरीके से अपनी बात रखनी चाहिए। 

सोमवार को दिल्ली महिला आयोग ने पुलिस और इंस्टाग्राम को नोटिस जारी कर इस मामले में जवाब मांगा था। 

क्या है पूरा मामला
गौरतलब है कि सोशल मीडिया पर रविवार शाम वायरल हुए चैट ग्रुप ‘बॉयज लॉकर रूम’ की कारगुजारी ने अभिभावकों को स्तब्ध करके रख दिया है। दिल्ली एनसीआर के प्रतिष्ठित स्कूलों में पढ़ने वाले 11वीं और 12वीं के लड़कों ने अपने साथ पढ़ने वाली और दोस्त लड़कियों को लेकर जिस तरह की भद्दी और अश्लील टिप्पणियां इंस्टाग्राम के एक चैट रूम में की हैं वे बेहद शर्मनाक हैं।

यहां तक कि लड़कों ने पोल खुलने पर एक और ग्रुप बनाकर लड़कियों की अभद्र तस्वीरों को वायरल तक करने की योजना बनाई। मामले ने जब तूल पकड़ा तो दिल्ली पुलिस के साइबर सेल ने केस दर्ज किया। अब दिल्ली पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए एक लड़के को हिरासत में लिया है और पूछताछ कर रही है।

वहीं दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल पहले ही इस मामले में कड़ी कार्रवाई की मांग कर चुकी हैं। आयोग ने दिल्ली पुलिस और इंस्टाग्राम को नाबालिग लड़कियों के बारे में अभद्र पोस्ट को लेकर नोटिस जारी किया।

दरअसल, स्कूली छात्रों द्वारा इंस्टाग्राम पर चैट ग्रुप ‘बॉयज लॉकर रूम’ बनाया गया था। ग्रुप चलाने वाले लड़के 16 से 18 साल के हैं।  यह सब साथ पढ़ने वाली और अपनी मित्र किशोरियों के अंतरंग फोटो बिना उनकी जानकारी के शेयर करते थे। यहां तक कि इन लड़कियों पर बेहद आपत्तिजनक टिप्पणी भी करते थे।

जब इस ग्रुप में एक नया लड़का जुड़ा तो उसने अपनी मित्र को यह बताया। सोशल मीडिया पर आशना शर्मा नामक यूजर ने इस ग्रुप को उजागर किया। उसने लिखा, मुझे अपनी जिंदगी में इतना ज्यादा गुस्सा कभी नहीं आया। इन लड़कों को अपनी करनी पर कोई पछतावा तक नहीं है।

बॉयज लॉकर रूम’ चैट समूह मामले के संबंध में एक स्कूली छात्र को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इसके साथ ही चैट ग्रुप के सभी सदस्यों की पहचान कर ली गई है। पुलिस ने कहा है कि इन सबकी जांच की जाएगी। वहीं, इस मामले पर इंस्टाग्राम की सफाई भी आ गई है। 

दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने दिल्ली के स्कूली लड़कों को इंस्टाग्राम चैट रूम पर बलात्कार को बढ़ावा देने पर कार्रवाई करते हुए यह गिरफ्तारी की है। पुलिस ने पकड़े गए छात्र का मोबाइल फोन बरामद कर लिया है और उसकी जांच भी की जा रही है।

वही, इंस्टाग्राम ने मंगलवार को कहा कि विवाद के बाद उसने अपने प्लेटफॉर्म से इस चैट को हटा दिया है। एक बयान में इंस्टाग्राम ने कहा कि उनसे इस मुद्दे को बेहद गंभीरता से लिया है और उसका मानना है कि यूजर्स को सुरक्षित और सम्मानजनक तरीके से अपनी बात रखनी चाहिए। 

सोमवार को दिल्ली महिला आयोग ने पुलिस और इंस्टाग्राम को नोटिस जारी कर इस मामले में जवाब मांगा था। 

क्या है पूरा मामला
गौरतलब है कि सोशल मीडिया पर रविवार शाम वायरल हुए चैट ग्रुप ‘बॉयज लॉकर रूम’ की कारगुजारी ने अभिभावकों को स्तब्ध करके रख दिया है। दिल्ली एनसीआर के प्रतिष्ठित स्कूलों में पढ़ने वाले 11वीं और 12वीं के लड़कों ने अपने साथ पढ़ने वाली और दोस्त लड़कियों को लेकर जिस तरह की भद्दी और अश्लील टिप्पणियां इंस्टाग्राम के एक चैट रूम में की हैं वे बेहद शर्मनाक हैं।

यहां तक कि लड़कों ने पोल खुलने पर एक और ग्रुप बनाकर लड़कियों की अभद्र तस्वीरों को वायरल तक करने की योजना बनाई। मामले ने जब तूल पकड़ा तो दिल्ली पुलिस के साइबर सेल ने केस दर्ज किया। अब दिल्ली पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए एक लड़के को हिरासत में लिया है और पूछताछ कर रही है।

वहीं दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल पहले ही इस मामले में कड़ी कार्रवाई की मांग कर चुकी हैं। आयोग ने दिल्ली पुलिस और इंस्टाग्राम को नाबालिग लड़कियों के बारे में अभद्र पोस्ट को लेकर नोटिस जारी किया।

दरअसल, स्कूली छात्रों द्वारा इंस्टाग्राम पर चैट ग्रुप ‘बॉयज लॉकर रूम’ बनाया गया था। ग्रुप चलाने वाले लड़के 16 से 18 साल के हैं।  यह सब साथ पढ़ने वाली और अपनी मित्र किशोरियों के अंतरंग फोटो बिना उनकी जानकारी के शेयर करते थे। यहां तक कि इन लड़कियों पर बेहद आपत्तिजनक टिप्पणी भी करते थे।

जब इस ग्रुप में एक नया लड़का जुड़ा तो उसने अपनी मित्र को यह बताया। सोशल मीडिया पर आशना शर्मा नामक यूजर ने इस ग्रुप को उजागर किया। उसने लिखा, मुझे अपनी जिंदगी में इतना ज्यादा गुस्सा कभी नहीं आया। इन लड़कों को अपनी करनी पर कोई पछतावा तक नहीं है।




Source link